Wednesday, October 22, 2008

चल दिया अपने मिशन पर चंद्रयान : डा. अहमद अली बर्क़ी आज़मी


चल दिया अपने मिशन पर चंद्रयान
डा. अहमद अली बर्क़ी आज़मी

चल दिया अपने मिशन पर चंद्रयान
हिंद की अज़मत का यह है एक निशान

कारनामा है यह इसरो का अज़ीम
हैँ सभी साँइंसदाँ जिसके महान

कामयाबी है यह एक तारीख़ साज़
मुल्को मिल्लत की बढाई जिसने शान

जश्न का माहौल है एक हर तरफ
हैँ प्रफुल्लित बच्चे बूढे और जवान

हीलियम की यह करेगा जुसतजू
जिसके होने का वहाँ पर है गुमान

आज है विज्ञान को उसक तलाश
जिसका है क़ुर्आन मेँ वाज़ह बयान

है मुसख़्खर इब्ने आदम के लिए
चाँद, मंगल, और यह सारा जहान

सब से अशरफ आज है नौए बशर
इस लिए है हर मिशन में कामरान

हो जुनूने आगही बर्क़ी अगर
कोई भी मुशकिल नहीँ है इम्तेहान



chal diya apane mishan par chandrayan
Dr. Ahamad Ali Barqi Azmi

chal diya apane mishan par chandrayan
hind kee azamat ka yah hai ek nishan

karanama hai yah isaro ka azim
hain sabhi saninsadan jisake mahan

kamayabi hai yah ek tarikh saz
mulko millat kee badhaee jisane shan

jashn ka mahaul hai ek har taraf
hain prafullit bachche boodhe aur javan

hiliyam kee yah karega jusatajoo
jisake hone ka vahan par hai guman

aaj hai vigyan ko usakee talash
jisaka hai quraan men vazah bayan

hai musakhakhar ibne aadam ke lie
chand, mangal, aur yah sara jahan

sab se asharaf aaj hai naue bashar
is lie hai har mishan men kamaran

ho junoone aagahi barqi agar
koee bhi mushakil nahin hai imtehan

1 comment:

फ़िरदौस ख़ान said...

उर्दू की पोस्ट देखकर अच्छा लगा...इसे जारी रखें...शुक्रिया...